पेरिस. नेपाल में शनिवार को आए विनाशकारी भूकंप ने वहां लाशों का अंबार लगा दिया है. वहीं विशेषज्ञों का कहना है कि 7.9 तीव्रता वाले इस भूकंप की वजह से राजधानी काठमांडु पुराने स्थान से तीन मीटर दक्षिण की ओर हट चुकी है.  देखें वीडियो

कैम्ब्रिज यूनीवर्सिटी के टेक्टॉनिक विशेषज्ञ जेम्स जैक्सन कहते हैं, ‘भूकंप के बाद पृथ्वी के भीतर गुजरने वाली ध्वनी तरंगों से प्राप्त शुरुआती आंकड़ों के अध्यक्ष के मुताबिक, नेपान की राजधानी संभवत: तीन मीटर (10 फीट) दक्षिण की ओर खिसक गया है. काठमांडु घाटी के नीचे करीब 150 किलोमीटर (93 मील) और 50 किलोमीटर चौड़ा क्षेत्र दशकों के दवाब के आगे टिक नहीं सका और फॉल्ट लाइन के ऊपर की चट्टानें नीचली चट्टनों से दक्षिण की ओर खिसक गईं.

वैज्ञानिकों के मुताबिक क़रीब पचास करोड़ साल पहले धरती दो बड़े महाद्वीपों में बंटी हुई थी… यूरेशिया और गोंडवाना लैंड. धरती के विकास क्रम में गोंडवाना लैंड कई टुकड़ों में टूटकर अलग-अलग दिशाओं की ओर बढ़ा. इसका एक हिस्सा जो भारतीय उपमहाद्वीप बना वो यूरेशियन प्लेट से टकराया. दोनों प्लेटों के बीच इसी टक्कर और रगड़ से बनी सिलवटों से हिमालय बना है.