उफा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच देशों के ब्रिक्स समूह (ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका) के शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए तीन दिन की यात्रा पर बुधवार को उफा पहुंचेंगे. इस दौरान यहां उनकी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ, रुस के राष्ट्रपति पुतिन और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से अलग से मुलाकात हो सकती है. इसके अलावा पीएम मोदी शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की बैठक में भी भाग लेंगे.

उफा में मौजूद इंडिया न्यूज़ के एडिटर इन चीफ दीपक चौरसिया ने बताया कि एससीओ सम्मेलन के दौरान मोदी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शरीफ के बीच अलग से मुलाकात और द्विपक्षीय संबंधों पर चर्चा होने की संभावना है. वहीं ब्रिक्स शिखर सम्मेलन से पहले मंगलवार को ब्रिक्स देशों के केंद्रीय बैंकों के प्रमुखों ने मुद्रा रिजर्व पूल के संचालन समझौते पर हस्ताक्षर कर दिए. 

मुद्रा रिजर्व पूल की कुल राशि 100 डॉलर है, जिसमें चीन का योगदान 41 अरब डॉलर, ब्राजील का 18 अरब डॉलर, रूस का 18 अरब डॉलर, भारत का 18 अरब डॉलर और दक्षिण अफ्रीका का पांच अरब डॉलर होगा.