भारत और पाकिस्तान के संबंध पर छाई धुंध को हटाने के लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के बीच उफा में एनएसए स्तर की वार्ता पर सहमति बनी थी लेकिन पाकिस्तान ने एक बार फिर अपने पुराने बर्ताव को दोहराते हुए बातचीत से पहले कश्मीर के अलगाववादियों से मिलने की शर्त आगे रख दी.
 
पाकिस्तान के इस रवैए से एनएसए स्तर की बातचीत रद्द हो गई. इस मामले से फिर साबित हो गया कि पाकिस्तान ऊपरी तौर पर भले ही संबंध सुधारने की बात कहे लेकिन अंदरुनी तौर पर वह भारत के साथ संबंध सुधारना ही नहीं चाहता. पाकिस्तान की इसी नापाक हरकत को बेपर्दा करता है स्माइल प्लीज का ये एनिमेटिड शो.. ‘ये पाकिस्तान नहीं सुधरेगा’