नई दिल्ली: आज जुर्म की एक ऐसी वारदात के साथ हम आपके सामने हाजिर हुए हैं. जिसने दिल्ली एनसीआर में सनसनी फैला दी है. ग्रेटर नोएडा पुलिस को हाईप्रोफाइल सोसायटी की चौदहवीं मंजिल के एक फ्लैट से दो लाश बरामद हुई है. मरने वाली मां-बेटी हैं. दोनों का बड़ी बेरहमी के साथ कत्ल किया गया. हैरानी की बात यह है कि उनका 14 साल का नाबालिग बेटा लापता है. वहीं पुलिस का कहना है कि मामला लूटपाट का नहीं है. अगर ऐसा है तो आखिर कौन है मां-बेटी का सनकी कातिल और क्या है इस दोहरे हत्याकांड की वजह.

इस केस में पुलिस को मां-बेटी के कातिल को तलाशना है. तो वहीं लापता प्रखर को भी ढूंढना है. प्रखर का डबल मर्डर के बाद लापता हो जाना पुलिस के लिए पहेली बन गया है. यही वजह है कि पुलिस केस वर्कआउट करने के लिए कोई भी पहलु छोड़ना नहीं चाहती है. इस बीच सवाल ये कि क्या दोनों तलाश की मंजिल एक ही है.

वक्त कितना भी लगे लेकिन ग्रेटर नोएडा की मां-बेटी का कातिल कानून से बच नहीं पायेगा. ठीक वैसे ही जैसे दिल्ली पुलिस ने दो महीने पहले हुई 5 कत्ल की वारदात को सुलझा लिया. इस वारदात को फुल प्रूफ साजिश के तहत अंजाम तक पहुंचाया गया था. 60 दिनों तक कातिल पुलिसवालों की आंख में धूल भी झोंकते रहे. लेकिन आखिरकार कातिल कानून के लंबे हाथों से बच नहीं सके.

सलाखें: 1971 में भारतीय नौसेना ने पाकिस्तान को दी थी शिकस्त

सलाखें: बेटी की शादी के लिया उधार, 5 हजार रुपए न चुकाने पर युवक को मिली ये दर्दनाक सजा