नई दिल्ली. ड्रेगन के खिलाफ सबसे बड़ी जंग की तैयारी में भारत और अमेरिका साथ है. समंदर में चीन की हेकरी निकालेगा ड्रेगन हंटर. दक्षिणी चीन सागर के विवाद पर अंतर्राष्ट्रीय कोर्ट के फैसले को चीन स्वीकार नहीं कर पा रहा है, लेकिन चीन फिर भी अंतर्राष्ट्रीय कोर्ट के फैसले को मानने को तैयार नहीं है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
अब दक्षिण चीन सागर पर नाजायज कब्जा करने की कोशिश में उसने अपनी सेना को उतार दिया है. पहले कृत्रिम टापू मिसाइल प्रणाली लगाई तो अब उसके मरीन कमांडो और टैंक ने इस इलाके में अपनी धमक दिखाकर ताइवान और फिलीपींस समेत अमेरिका तक को युद्ध की धमकी दी है.
 
वो ये भी साफ कर चुका है कि अगर दक्षिणी चीन सागर में किसी और देश ने घुसने की कोशिश की तो उसके अंजाम बेहद खतरनाक हो सकते हैं.