नई दिल्ली. बगदादी मरने को मर गया है, लेकिन ना उसका आतंक खत्म मिटा है और ना ही कत्लेआम का सिलसिला थमा है. आईएसआईएस आतंकियों ने इस बार ईद पर 800 लोगों की जान ले ली है और रमजान के महीने में बेगुनाहों का खून बहाकर कत्लेआम की ऐसी इबारत लिख दी है कि किसी का भी कलेजा कांप उठेगा.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
ताजा हमले में आईएसआईएस आतंकियों ने चार लोगों की जान ली. दो बंधकों का कत्ल आतंकियों ने बच्चों के हाथों से कराया है. इस कत्लेआम को अफगानिस्तान में अंजाम दिया गया. चार कत्ल अंजाम देकर आतंकियों ने बगदादी की ईद को खूनी बना दिया.
 
आईएसआईएस के आतंक की इन ताजा तस्वीरों ने फिर से बगदादी के खौफ को ज़िंदा कर दिया है. दुनिया को अहसास कराया है कि बगदादी भले ही मर गया हो, लेकिन उसके आतंक का सिलसिला अभी थमा नहीं है. उसके आतंकी अब भी लोगों को बंधक बनाकर उनका बेरहमी से कत्ल कर रहे हैं.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
इंडिया न्यृज़ के खास कार्यक्रम सलाखें में देखिए ईद पर बगदादी का कहर.