नई दिल्ली. पूरी दुनिया को जिस वक्त का इंतजार कर रही थी आखिर वो काम अमेरिका ने कर दिखाया. पूरी दुनिया को अपनी दहशत से दहलाने वाला बगदादी के मरने की ख़बर लगातार आ रही है.इसबार बगदादी की मौत का दावा आइसिस की तरफ से भी किया गया है यानी बगदादी के साथ दुनिया की बहुत बड़ी टेंशन हमेशा के लिए खत्म हो गई.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
रिपोर्ट के मुताबिक बगदादी 9 जून की देर शाम अपने कुछ कमांडर्स के साथ सीरिया के रक्का की तरफ आ रहा था. बगदादी रक्का पहुंचने वाला था कि अमेरिकी फाइटर जेट्स ने आइसिस के इस काफिले पर बम गिरा दिये.इस हमले में बगदादी जख्मी हो गया. जख्मी बगदादी को  रक्का के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन इराकी मीडिया में आई ख़बरों के मुताबिक रविवार की शाम बगदादी की मौत हो गई. इराकी न्यूज़ चैनल अल समारिया ने भी बगदादी के मरने की ख़बर को पुख्ता किया है.
 
बता दें कि रक्का बगदादी का गढ था, रक्का में ही बगदादी ने अपना हेडक्वार्टर बना रखा था और कमाल कि बात यह है कि बगदादी मरा भी तो अपने हेडक्वार्टर्स रक्का में हालांकि अभी तक अमेरिका या फिर किसी भी सहयोगी देश की तरफ से बगदादी की मौत की पुष्टि नहीं की गई है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
बगदादी के मौत के बाद कई सवाल खड़े होते है कि आखिर कैसे मरा बगदादी, क्या है बगदादी की मौत की इनसाइड स्टोरी देखिए इंडिया न्यूज पर