भोपाल. विकास की बुनियाद गांव से ही पड़ती है. इसी सोच के साथ मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान सरकार ने 2012 में ग्रामीण आजीविका मिशन शुरू की थी जिसकी चर्चा आज पूरे देश में हो रही है. इसी का जायजा इंडिया न्यूज़ ने स्पेशल शो सफरनामा के जरिए लिया कि आखिर मध्यप्रदेश के गांव कैसे बदल रहे है?
 
मध्य प्रदेश सरकार कैसे ग्रामीण स्तर को मुख्यधारा से जोडने में लगी है? मध्यप्रदेश सरकार की योजनाए कैसे काम कर रही है? ग्रामीण आजीविका मिशन ने कैसे न केवल रोजगार के रास्ते खोले है बल्कि ग्रामीणो का जीवन स्तर भी सुधारा हैं? इस योजना के तहत घर से न निकलने वाली महिलाएं वाकई अब अपनी जिंदगी में एक नए मुकाम की तरफ बढ चली हैं.
 
इस योजना के चलते ग्रामीण युवाओं में ना केवल आत्मविश्वास दिखने लगा है, बल्कि गांवों से नौजवानों का पलायन भी रुका है. अब गांवों के नौजवान दूर दराज के इलाकों में जाने की बजाय अपने घर के पास ही रहकर रोजगार करने लगे हैं.