नई दिल्ली: टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने श्रीलंका को टेस्ट सीरीज में हराकर एक बाफ फिर चमचमाती हुई ट्रॉफी अपने हाथ में उठाया. श्रीलंका पर मिली जीत के बाद टीम इंडिया के नंबर वन के ताज की साख और भी तगड़ी हो गई है. विराट कोहली की बल्लेबाजी ऐसी मानों पिछली पारी को ही आगे बढ़ा रहे हो. पूरा साल बीत गया विराट को ना तो कोई रोक पाया और लगता नहीं कि नए साल में भी कोई रोक पाएगा. साल 2016 का अंत भी नंबर वन के ताज के साथ किया था.

श्रीलंका को हराकर टीम इंडिया ने लगातार 9वीं टेस्ट सीरीज़ जीती है. ये वो अद्भूत रिकॉर्ड है, जहां अब तक सिर्फ कंगारू ही पहुंच सके थे.विराट कोहली कलेंडर ईयर में सबसे ज्यादा जीत वाले संयुक्त रूप से नंबर वन कप्तान हैं, यहां भी विराट ने पॉन्टिंग के रिकॉर्ड की बराबरी की है. सोचिए जरा अगर विराट कोहली श्रीलंका के खिलाफ वनडे और टी-ट्वेंटी सीरीज़ में खेल जाते तो विराट पॉन्टिंग को कितना पीछे छोड़ देते.

साल का अंत विराट ने नंबर 2 बल्लेबाज़ के तौर पर किया. 3 टेस्ट की सीरीज़ में विराट सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज़ हैं. एक मैच में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय कप्तान भी विराट कोहली ही हैं. विराट सबसे ज्यादा 6 दोहरे शतक बनाने वाले दुनिया के पहले कप्तान हैं. एक साल में सबसे ज्यादा इंटरनेशनल रन बनाने वाले कप्तान भी विराट ही हैं. हर रिकॉर्ड ये बता रहा हैं कि विराट कोहली सर्वश्रेष्ठ हैं. अब विराट को 15 महीने विदेशी सरजमीं पर भारतीय तिरंगे का मान बढ़ाने के अभियान में जुटना है, जहां विराट कोहली की फॉर्म और कप्तानी भारतीय टीम की दिशा और दशा तय करेंगे.

वीडियो में देखें पूरा शो: