नई दिल्ली: आज सावन का दूसरा सोमवार है. सावन के महीने में सोमवार का विशेष महत्व होता है. आज के दिन व्रत रखने से भगवान शिव काफी जल्दी प्रसन्न होते हैं. 
 
आज वैसे तो हम आएदिन भगवान शिव की पूजा करते हैं. लेकिन सावन के सोमवार को भगवान शिव की जल्दी प्रसन्न होते और सारी मनोकामनाएं पूरी करते हैं. 
 
आज के दिन भगवान शिव की भांग, धतूरा और शहद से पूजा करें. इससे उन्हें शक्ति और बेहतर स्वास्थ्य प्राप्त होगा साथ ही उनकी सारी इच्छाएं भी पूरी होंगी. इसके अलावा सावन के महीने में शिवपुराण, शिव चालीसा का पाठ और महामृत्युंजय का जोप करना काफी फलदायक होता है.
 
 
इस बार का सावन कुछ खास है क्योंकि इस बार के सावन में पूरे 5 सोमवार पड़ेंगे. जिसे विशिष्ट संयोग माना जा रहा है. सर्वार्ध सिद्धि योग से 10 जुलाई को सावन का शुभारंभ सोमवार के साथ हुआ जबकि इसका समापन भी सोमवार को सर्वार्थ सिद्धि योग और चंद्र ग्रहण के साथ होगा. बताया जा रहा है कि सावन में इस तरह का संयोग 50 साल बाद बना है.
 
इसलिए अहम है 5 सोमवार
पंडितों और शास्त्रियों के अनुसार 5 अंक का अलग ही महत्व होता है. करीब हर अहम चीज के साथ 5 का अंक जुड़ा है. हमारे शरीर में भी 5 इंद्रीयां होती है, सावन के आखिरी सोमवार 7 अगस्त को राखी होगी. सुबह 11.7 बजे तक भद्रा रहेगी. रात्रि 10.52 से चंद्र ग्रहण दिखना शुरू होगा. जो कि रात 12.22 बजे तक रहेगा. रक्षाबंधन के दिन राखी बांधने का शुभ मुहूर्त सुबह 11 बजकर 7 मिनट से दोपहर 1 बजकर 50 मिनट तक रहेगा.