हैदराबाद. मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एमआईएम) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि चाहे कुछ भी हो जाए, मुसलमान भारत नहीं छोड़ेंगे. वे यहीं पर “गौरवान्वित भारतीय” की तरह रहेंगे. ओवैसी ने कहा, “हम सिर्फ जन्म से नहीं, बल्कि चयन से भी भारतीय हैं. हमने बहुत मुसीबतें देखी हैं, कई दंगे देखे, हजारों लोग मर गए. हमने बाबरी मस्जिद को टूटते हुए भी देखा है.” 
 
हैदराबाद के सांसद ओवैसी ने कहा, “मुसलमान संघ परिवार और अन्य फासीवादियों की कूट भाषा राजनीति के सामने झुकेंगे नहीं। वे देश के संविधान के तहत मिले अधिकारों, न्याय और वाजिब हिस्सेदारी के लिए अपना लोकतांत्रिक संघर्ष जारी रखेंगे.”
 
अभिनेता आमिर खान के बयान पर ओवैसी ने कहा, “मैं किसी फिल्म अभिनेता के बारे में कुछ नहीं कह सकता. मैं केवल बतौर गौरवान्वित भारतीय कह सकता हूं कि मैं संघ परिवार और अन्य फासीवादियों की कूट भाषा राजनीति के सामने झुकूंगा नहीं. उन्हें हमारे दिलो-दिमाग में डर नहीं बैठाना चाहिए, क्योंकि यह हमारा देश है. जब तक पृथ्वी पर जीवन है, मुसलमान भारत में गौरवान्वित भारतीय की तरह रहेंगे.”