कोलकाता. केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने बीफ और असहिष्णुता के मुद्दे पर कहा कि कथित असहिष्णुता का मुद्दा दरअसल बिहार चुनावों से पहले बीजेपी की छवि खराब करने की पूर्व योजना के तहत उठाया गया था. उन्होंने कहा, ”असहिष्णुता का मुद्दा बिहार चुनाव से पहले हमारी छवि खराब करने के राजनीतिक उद्देश्य के साथ उठाया गया था. ये पूर्व नियोजित था. तभी तो परिणाम आने के बाद आपको कोई विरोध प्रदर्शन दिखाई नहीं दे रहा.”
 
ज्योति ने कहा, ”बिहार चुनाव में जिन वोटों से मूल अंतर पड़ा वे तटस्थ वोट थे. बिहार में मूल अंतर पांच से दस प्रतिशत के तटस्थ वोटों से आया. केंद्र में सत्ता में आने के बाद हमने कई राज्यों में जीत हासिल की है. मैं नीतीश कुमार जी को अपनी शुभकामनाएं देती हूं.”
 
गोवध पर रोक लगाने को राज्य सरकार का कर्तव्य बताते हुए कहा है, ‘इस देश में गाय के अलावा खाने को बहुत सी चीजें हैं. यदि आप हमसे सम्मान चाह रहे हैं तो आपको पहले हमारा सम्मान करना भी सीखना चाहिए. पश्चिम बंगाल उन राज्यों में से एक है. जहां गोवध पर कोई रोक नहीं है.’