सम्भल. उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री आजम खान ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बयान को आड़े हाथ लेते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा. आजम ने कहा है कि प्रधानमंत्री मोदी विदेशी दौरे खत्म करने के बाद प्रधानमंत्री पद और राजनीति से सन्यास ले लेना चाहिए. पीएम वापस लौटते ही गेरूआ वस्त्र पहन कर साधु बनें और इंसानियत का संदेश फैलाएं. 
 
आजम ने कल्कि महोत्सव में बोलते हुए कहा, ‘बीजेपी अध्यक्ष शाह ने कहा था कि पार्टी नेता 60 साल से ज्यादा उम्र के नेताओं को राजनीति से संन्यास ले लें. लेकिन प्रधानमंत्री मोदी तो 65 साल के हो चुके हैं. तो इस लिहाजा से उन्हें भी सियासत छोड़ देनी चाहिए और साधु बन जाना चाहिए.
 
आजम खान के इस बयान पर बीजेपी नेता सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा, ”आजम खान का बयान निंदनीय है. वे एक वरिष्ठ नेता हैं और उन्हें ऐसे बयान से बचना चाहिए.”
 
गोहत्या पर आजम ने कहा कि वह न केवल गोहत्या के सख्त खिलाफ हैं, बल्कि चाहते हैं कि किसी भी जानवर की हत्या ना की जाए.
 
बता दें कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को चित्रकूट में कहा था कि नेताओं को 60 साल से ज्यादा की उम्र पार करने वालों को राजनीति से संन्यास ले लेना चाहिए. इसके बाद सियासी हलकों में शाह के बयान के अलग-अलग अर्थ निकाले जाने लगे.