लंदन. ब्रिटेन की संसद को संबोधित करके आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ऐसा करने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री बन गए है. इस दौरान उन्होंने आतंकवाद और भारत को लेकर अपने विचार व्यक्त किए. उन्होंने कहा, दुनिया को मिलकर आतंकवाद के खिलाफ आवाज उठाना चाहिए और जो देश आतंकवाद को पनाह देते हैं उनका बहिष्कार करने की जरूरत है.”
 
भारत और ब्रिटेन के रिश्तों को लेकर पीएम मोदी ने कहा, ”हम दो लोकतंत्र, दो मजबूत अर्थवयवस्थाएं और दो प्रगतिशील समाज है.भारत में आकर बदलाव महसूस करेंगे. भारत में तीसरा सबसे बड़ा निवेशक है ब्रिटेन है. भारतीय ब्रिटेन में अन्य यूरोपियन यूनियन के देशों से अधिक निवेश करते हैं क्योंकि उन्हें यहां उन्हें अच्छा माहौल मिलता है.दोनों देशों के लिए यह बेहतरीन मौका है कि दुनिया के अग्रगामी साझेदार बनें.”