मुंबई. महाराष्ट्र में एनडीए सरकार की अहम पार्टनर शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को धमकी दी कि अगर बीजेपी का अहंकार कम नहीं हुआ तो वो फड़नवीस सरकार से समर्थन वापस ले लेंगे. दिवाली से पहले दाल के दाम कंट्रोल करने की चेतावनी देते हुए उद्धव ने कहा, “जनता ने जब इंदिरा गांधी को उखाड़ फेंका था तो तुम्हारी क्या औकात.”
 
कल्याण-डोंबिवली नगर निगम चुनाव के प्रचार के आखिरी दिन कल्याण में एक जनसभा को संबोधित करते हुए उद्धव ने कहा, “सरकारी व्यवस्था का इस्तेमाल अगर घर की गाड़ी की तरह हुआ तो हम सरकार को रास्ते पर ला आएंगे.” 
 
मंत्री एकनाथ शिंदे ने चुनावी सभा में ही इस्तीफे की घोषणा कर दी
 
सरकार से समर्थन वापसी की धमकी उद्धव ने तब दी जब उनके साथ मंच पर मौजूद शिवसेना नेता और राज्य के मंत्री एकनाथ शिंदे ने चुनावी सभा में ही मंत्री पद से इस्तीफा देने की पेशकश कर दी. शिंदे ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस द्वारा शिवसेना को ड्रामा कंपनी कहने के विरोध में इस्तीफा देने की घोषणा की थी. 
 
एकनाथ शिंदे के बाद जब उद्धव ठाकरे ने भाषण किया तो उन्होंने शिंदे के इस्तीफे की पेशकश को ठुकरा दिया और कहा, “अगर भाजपा को ज्याीदा मस्ती  चढ़ी है तो हम समर्थन वापस ले लेंगे. अपने सभी मंत्रियों के इस्तीखफे ले लेंगे.”
 
राजनीतिक रूप से समझने वाली बात ये भी है कि रविवार को होने वाले निकाय चुनावों में बीजेपी और शिवसेना अलग लड़ रही हैं इसलिए दोनों पार्टियों के नेता इस चुनाव के प्रचार में एक-दूसरे के खिलाफ जमकर बयानबाजी कर रहे हैं.