नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी की पूर्व प्रवक्ता आतिशी मारलेना ने सनसनीखेज खुलासा किया है. उन्होंने कहा कि प्रशांत व केजरीवाल गुट दोनों समझौते के करीब पहुंच गए थे, लेकिन आखिरी समय में प्रशांत भूषण अपने पिता की जिद के चलते पीछे हट गए. उनके अनुसार पूर्व कानून मंत्री शांति भूषण ने अपने बेटे प्रशांत भूषण को धमकी दी थी कि अगर उन्होंने केजरीवाल गुट से कोई समझौता किया तो वह घर छोड़ देंगे.

कुछ दिनों पहले प्रवक्ता पद से हटाई गईं मारलेना ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को यह चिट्ठी लिखी है. इसमें कहा गया है कि केजरीवाल गुट और उनके विरोधी प्रशांत-योगेंद्र गुट के बीच बातचीत सही दिशा में आगे बढ़ रही थी और इसमें समझौते की संभावना थी लेकिन शांति भूषण नहीं चाहते थे कि प्रशांत और योगेंद्र केजरीवाल के आगे समर्पण करें. शांति भूषण ने अपने बेटे प्रशांत भूषण से साफ कह दिया था कि अगर वह केजरीवाल से समझौता करने की दिशा में आगे बढ़ते हैं तो वह घर छोड़ देंगे.

दूसरी ओर आतिशी के दावे को नकारते हुए प्रशांत भूषण ने कहा कि आतिशी को सच्चाई पता नहीं है और वह वहां नहीं थीं. उन्होंने कहा, ‘दोनों पक्षों में बातचीत विश्वसनीयता की कमी की वजह से नाकाम हुई. हमें उनके वादों पर भरोसा नहीं था.’