न्यूयॉर्क. भारत ने नियंत्रण रेखा पर एक दीवार के निर्माण को लेकर पाकिस्तान द्वारा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में की गई शिकायत को खारिज कर दिया है. भारत का कहना है कि यह शिकायत एक आतंकवादी के कहने के बाद दर्ज कराई गई है. 
 
क्या है मामला
संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान की स्थायी प्रतिनिधि मलीहा लोधी ने सुरक्षा परिषद के अध्यक्ष रूस के विटाली चर्किन को लिखे पत्र में शिकायत की है कि भारत नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर 197 किलोमीटर लंबी दीवार का निर्माण कर रहा है. लोधी ने यह भी कहा है कि भारत द्वारा दीवार का निर्माण परिषद के प्रस्तावों का उल्लंघन होगा। नियंत्रण रेखा (एलओसी) जम्मू एवं कश्मीर को भारत और पाकिस्तान के बीच विभाजित करती है.
 
आतंकी सलाहुद्दीन ने की थी यही शिकायत 
पाकिस्तान की शिकायत के बारे में भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा कि यह शिकायत सईद सलाहुद्दीन द्वारा इसी तरह के दिए गए बयान पर आधारित है. सलाहुद्दीन को हम एक वैश्विक आतंकवादी मानते हैं. सलाहुद्दीन, पाकिस्तान समर्थक हिजबुल मुजाहिदीन का नेता है. इस संगठन को भारत, अमेरिका और यूरोपीय संघ ने एक आतंकवादी संगठन घोषित किया है. इससे पहले, पाकिस्तान ने दोनों देशों के बीच बातचीत के अभाव को लेकर संयुक्त राष्ट्र को शिकायती पत्र लिखा था. स्वरूप ने कहा कि यह शिकायत बेकार है, क्योंकि भारतीय सीमा सुरक्षा बल और पाकिस्तान रेंजर्स के अधिकारियों के बीच बैठकें हुई हैं.