नई दिल्ली. मुस्लिम समुदाय के देश भर से आए वरिष्ठ नेताओं ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की है. कट्टरपंथ को बढ़ावा देने की प्रवृत्ति और आतंकवाद के बढ़ते खतरे के बारे में आशंकाएं व्यक्त करते हुए इन नेताओं ने चुनौतियों से निपटने के लिए अधिक एकजुटता दिखाने और सामूहिक प्रयास करने की आवश्यकता पर बल दिया.

इन नेताओं ने मुस्लिम धर्मस्थलों, मस्जिदों और मदरसों की संपत्तियों से जुड़े मुद्दों की तरफ नरेन्द्र मोदी का ध्यान आकर्षित किया. उन्होंने मुस्लिम युवाओं को खासतौर से शिक्षा के क्षेत्र में बेहतर सुविधाएं प्रदान करने के लिए सरकार से सहायता देने को कहा. प्रधानमंत्री ने प्रतिनिधिमंडल की बात को गौर से सुना और उन्हें मुस्लिम समाज के सभी वर्गो की शिकायतों को दूर करने में पूरा सहयोग देने का आश्वासन दिया है.