वाराणसी. PM नरेंद्र मोदी ने वाराणसी दौरे पर एक कार्यक्रम में कहा कि नई योजनाओं की शुरुआत से काशी का भाग्य बदलेगा. उन्होंने कहा कि तकनीक की मदद से गरीबों के जीवन में सुखद बदलाव आएगा. प्रधानमंत्री ने कहा कि योजनाओं के जरिए गरीबों को आत्मनिर्भर बनाने की कोश‍िश की गई है. उन्होंने कहा कि श‍िक्षा के जरिए ही गरीबों की दशा सुधर सकती है. उन्होंने लोगों से अपील की, ‘अपने बच्चों की पढ़ाई को हर हाल में प्राथमिकता दें.’
 
कांग्रेस पर बोला हमला
पीएम मोदी ने कहा कि बैंकों के राष्ट्रीयकरण के बावजूद गरीबों के लिए इसके दरवाजे नहीं खुले थे. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जनधन योजना के जरिए गरीब बैंकों के दरवाजे तक पहुंचे. सरकार ने तो कहा कि जीरो बैलेंस पर खाते खोले जाएंगे, लेकिन गरीबों ने करीब 30 हजार करोड़ रुपये खातों में जमा करवाए. नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘आज 18 करोड़ से ज्यादा गरीबों के पास बैंक खाते हैं.’ उन्होंने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि जिन लोगों ने गरीबों के खाते तक नहीं खोले, वे मुझसे मेरी योजनाओं और कामों का हिसाब मांग रहे हैं.
 
बांटे गए ई-रिक्शा और साइकिल रिक्शा 
कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी ने ई-रिक्शा और साइकिल रिक्शा की चाबियां अपने हाथों से बांटीं. मोदी ने कहा कि जिन लोगों के पास अपना रिक्शा नहीं था, उन्हें ही कम ब्याज दर पर रिक्शा दिया गया है. PM मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के एक दिवसीय दौरे पर पहुंचे हैं. प्रधानमंत्री के दौरे में बिजली और सड़क संबंधी महत्वपूर्ण योजनाओं को शुरू करने, बनारस हिंदू विश्वविद्यालय परिसर के भीतर एक ट्रॉमा सेंटर का उद्घाटन करने और एक जनसभा को संबोधित करने का कार्यक्रम है.