नई दिल्ली. स्वच्छ भारत अभियान पर इसके एक ब्रांड एंबेस्डर ने ही सवाल खङे कर दिये हैं. ये कोई और नहीं बल्कि ब्रांड एंबेसडर कांग्रेस नेता शशि थरूर हैं. शशि थरूर ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि स्वच्छ भारत अभियान के लिए केंद्र से जरूरी संसाधन नहीं मिल रहे हैं. अभियान  के लिए मोदी सरकार का बजट मनमोहन सरकार के बजट से कम है. उन्होंने यह भी कहा कि ऐसे में लगता है कि कांग्रेस पार्टी द्वारा इस अभियान की आलोचना गलत नहीं है.
 
इसके अलावा थरूर ने ये भी कहा कि जहां तक स्वच्छता अभियान की बात है तो कहा जा सकता है कि इस बात के खास सबूत नहीं मिल रहे हैं कि अभियान के बारे में कही जा रही बातों और काम में समानता है. योजना के प्रचार का बजट इस वित्तीय वर्ष में सफाई के लिए मिले बजट से पांच गुना ज्यादा है. थरूर ने कहा अभियान के लिए विशेष कोष बनना चाहिए और इसे करने के लिए केंद्रीय संवर्ग बनाया जाना चाहिए. उन्होंने कहा, ‘मोदीजी ने एक स्वच्छ भारत कोष की स्थापना की बात कही थी. आज की तारीख तक यह काम नहीं हुआ है. जमीनी स्तर पर स्वच्छ भारत अभियान की प्रगति दिखनी चाहिए. इसे महज प्रचार की दुनिया में ही नहीं सिमटे रहना चाहिए.’
 
आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आठ अन्य लोगों के साथ शशि थरूर को स्वच्छ भारत अभियान का ब्रांड एंबेस्डर बनाया था. थरूर ने अपने निर्वाचन क्षेत्र तिरुवनंतपुरम में स्वच्छता अभियान में हिस्सा लिया था. हालांकि कई मौकों पर थरूर मोदी की तारीफ कर अपनी पार्टी के नेताओं के निशाने पर आते रहे हैं. 
 
IANS