पणजी. गोवा से कांग्रेस के राज्यसभा सांसद शांताराम नाइक ने गुरुवार को केंद्र सरकार पर गांवों और शहरों में भेदभाव करने का आरोप लगाया. नाइक ने कहा कि एक ओर ‘स्मार्ट सिटी’ को करोड़ों रुपये बांटे जा रहे हैं, दूसरी ओर सांसद आदर्श ग्राम योजना (एसएजीवाई) को एक धेले का आवंटन नहीं किया गया है.
 
नाइक ने एक बयान में कहा, ‘सरकार ने आदर्श ग्राम योजना को सफल बनाने के लिए राज्य सरकार के अधिकारियों को प्रेरित नहीं किया. इसके विपरीत निजी निवेशकों विशेषकर विदेशी निवेशकों को खुश करने के लिए स्मार्ट सिटी परियोजनाओं को मनचाहा रूप दिया गया है.’
 
 
पिछले साल शुरू हुई सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत प्रत्येक सांसद निर्वाचन क्षेत्र से एक गांव गोद ले सकता है और इसे आदर्श गांव में विकसित करवा सकता है. नाइक ने स्मार्ट सिटीज का जिक्र कर उन 99 शहरों की ओर इशारा किया है, जिन्हें पिछले माह केंद्र सरकार ने भविष्य के लिए रहने के लिहाज से ‘स्मार्ट’ शहरी आवास नामित किया है. सांसद नाइक ने कहा, ‘भारत सरकार द्वारा स्मार्ट शहरों को करोड़ों रुपये का बजट उपलब्ध कराना और एसएजीवाई को एक धेला न देना संदेहास्पद है.
 
IANS