नई दिल्ली. वरिष्ठ भाजपा नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा का कहना है कि पाकिस्तान के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) स्तरीय बातचीत का कोई फायदा नहीं होगा. मंगलवार को उन्होंने अपनी ही पार्टी पर आरोप लगाते हुए कहा कि पाकिस्तान से बातचीत को लेकर भाजपा अपने पुराने रुख से पीछे हट गई है.
 
गौरतलब है कि पिछले कई दिनों से पाकिस्तान लगातार सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है. इसमें कई नागरिकों और जवानों को जान गंवानी पड़ी है. इसके साथ ही एक के बाद एक आतंकी हमले भी हो रहे हैं. इसे लेकर कांग्रेस ने भी एनएसए स्तर की वार्ता को रद्द करने की मांग की है. एक टीवी चैनल को दिए साक्षात्कार में वाजपेयी सरकार में विदेश मंत्री रहे यशवंत सिन्हा ने कहा कि वाजपेयी शासन में पाकिस्तान से निबटने के छह साल के अनुभव के बाद हम इस नतीजे पर पहुंचे थे कि आतंकी घटनाएं और बातचीत एक साथ नहीं हो सकती.