नई दिल्ली. मॉनसून सत्र के आखिरी हफ्ते में आज बुधवार को लोकसभा की कार्यवाही शुरू होते ही कांग्रेसी सांसदों ने फिर हंगामा शुरू कर दिया. हंगामा होते देख सदन में मौजूद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने स्पीकर से कहा कि अगर विपक्ष स्थगन प्रस्ताव चाहता है तो प्रश्नकाल को स्थगित करके मैं हर मुद्दे पर जवाब देने के लिए तैयार हूं. इस पर जवाब देते हुए लोकसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि विपक्ष चाहता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सदन में आकर जवाब दें. 

वैंकेया नायडू ने जोड़े हाथ
संसदीय कार्य मंत्री वेंकैया नायडू ने कांग्रेस से कहा है कि वो हाथ जोड़कर कांग्रेस से प्रार्थना कर रहे हैं कि वो सदन को चलने दें. उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया संसद का हाल देख रही है. अब मॉनसून सत्र के सिर्फ दो दिन बचे हैं. सदन को चलने देना चाहिए. वहीं कांग्रेस ने संसद न चलने देने के लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराया है. कांग्रेस के मुताबिक जीएसटी बिल पास न होने की वजह पीएम मोदी और वित्त मंत्री जिम्मेदार हैं.