नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी के नेता डॉ कुमार विश्वास ने 2018 के राजस्थान विधानसभा चुनाव की तैयारी का बिगुल अब ज़ोर शोर से फूंक दिया है. मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले पर विश्वास ने कहा कि इकोनॉमी कैशलेश हो गई, सरकार शेमलेस हो गई. साथ ही बीजेपी सरकार पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि देश का दुर्भाग्य है कि देश की शीर्ष सोच पर काबिज संगठन के लोग गांधीजी की हत्या को गांधी वध कहते हैं.
 
सोमवार को दिल्ली में कुमार विश्वास ने कहा कि पार्टी बनाते समय बहुत से लोग अपनी नौकरियां छोड़कर आये थे, हमें ऐसे ही लोगो के सहारे इस पार्टी को आगे बढ़ाना है. साथ ही कहा कि देश के अच्छे कार्यकर्ता आम आदमी पार्टी के साथ हैं, जो न टिकट की डिमांड करते हैं और न किसी तरह का कॉन्ट्रैक्ट चाहते हैं.
 
उन्होंने कहा कि मैंने इस देश की कल्पना नहीं की जहां इस्लाम से हिंदुत्व या हिंदुत्व से इस्लाम डरे. साथ ही उन्होंने नोटबंदी पर तंज कसते हुए बीजेपी पर हमला किया और कहा कि इकोनॉमी कैशलेश हो गई, सरकार शेमलेस हो गई. आगे कहा कि इस देश को विपक्ष की नहीं बल्कि विकल्प की जरुरत है. 
भाजपा के राष्ट्रवाद को ‘धृतराष्ट्रवाद’ की संज्ञा देते हुए भी विश्वास ने चुटकी लेते हुए कुमार ने कहा कि हमें अब बोलना ही होगा, ओढ़े हुए मौन से काम नहीं चलेगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘इवेंट मैनेजर’ बताते हुए उन्होंने कहा कि मोदी जी के पास विज़न के नाम पर सिर्फ टेलीविज़न ही है. 
 
2014 लोकसभा चुनावों को ‘पार्टी की जल्दबाज़ी’ बताते हुए विश्वास ने कहा कि यह जल्दबाजी करना हमारी भूल थी और हमने इसका बड़ा नुकसान उठाया. विश्वास ने कहा कि दुर्भाग्य से हमारी पार्टी के कुछ हिस्सों में भी गणेश परिक्रमा की परम्परा आने लगी है.