नई दिल्ली. पिछले दिनों बीजेपी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने सोनिया गांधी पर नस्लीय टिप्पणी करते हुए कहा था कि उन्हें कांग्रेस का अध्यक्ष इसलिए बनाया गया क्योंकि वह गोरी चमड़ी वाली महिला थीं. हालांकि अपने बयान पर बवाल बढ़ता देख गिरिराज ने खेद जता दिया है. उधर कांग्रेस पार्टी ने गिरिराज के बयान पर कड़ा ऐतराज जताते हुए उन्हें मंत्रिमंडल से हटाने की मांग की है.

कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से माफी मांगने के लिए कहा है. केंद्रीय मंत्री के बयान की पूरे देश में निंदा की गई. नाइजीरियाई सरकार ने इस मामले की शिकायत विदेश मंत्रालय से करने की बात कही है. सत्ताधारी भाजपा ने केंद्रीय मंत्री के इस बयान से खुद को अलग रखते हुए उनके बयान को अपमानजनक और अनुचित करार दिया. 

अमित शाह ने भी दी हद में रहने की नसीहत
सोनिया गांधी पर नस्लभेदी टिप्पणी करके विवाद पैदा करने वाले केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह को आज उस वक्त अपने बयान पर खेद जताना पड़ा जब बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने उन्हें फोन कर साफ कहा कि ‘‘ऐसी भाषा’’ स्वीकार्य नहीं है . पार्टी सूत्रों ने कहा कि शाह ने फोन पर सिंह से बात की और साफ कहा कि किसी मंत्री को ऐसी भाषा का इस्तेमाल शोभा नहीं देता . बहरहाल, पार्टी के एक नेता ने कहा कि कांग्रेस के कई नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते रहे हैं लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी सहित किसी ने भी कभी माफी नहीं मांगी.
IANS