नई दिल्ली. 25 सांसदों के निलंबन के मामले में बुधवार के दिन भी कांग्रेस ने फैसले के खिलाफ प्रदर्शन किया. संसद परिसर में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, उपाध्यक्ष राहुल गांधी, मनमोहन सिंह और कांग्रेस के तमाम सांसद शामिल रहे. कांग्रेस निलंबन को लेकर को मोदी सरकार की आलोचना कर रही है और इसे लोकतंत्र की हत्या करने वाला फैसला बता रही है.

कांग्रेस को मिला पार्टियों का साथ
मंगलवार के दिन भी इसी मुद्दे को लेकर कांग्रेस ने संसद परिसर में हंगामा मचाया था. सपा के सांसद इस मुद्दे पर लोकसभा में चर्चा करना चाहते थे लेकिन अध्यक्ष के बाद में चर्चा करने के आदेश के बाद वे बहिर्गमन कर गए. कांग्रेस सांसदों के निलंबन के खिलाफ तृणमूल कांग्रेस, राकांपा, जदयू, राजद, आम आदमी पार्टी और वाम दल लोकसभा की कार्यवाही में शामिल नहीं हुए जबकि बीजद, अन्नाद्रमुक, टीआरएस, टीडीपी कार्यवाही में शामिल हुए.

इन 25 सांसदों को लगातार मॉनसून सत्र के दौरान कार्यवाही बाधित करने के कारण लोकसभा अध्यक्ष ने सोमवार को निलंबित कर दिया था. इसी के विरोध में कांग्रेस विरोध प्रदर्शन कर रही है.