लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विजयरथ को रोकने के लिए बीएसपी और समाजवादी पार्टी के बीच गठबंधन की खबरों से SP संरक्षक मुलायम सिंह यादव काफी नाराज है. उन्होंने साफ कर दिया है कि गठबंधन नहीं होना चाहिए और अगर यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने ऐसा किया तो कोई फैसला लेना पड़ेगा.
 
गाजियाबाद के मुरादनगर के एक कार्यक्रम में मुलायम ने कहा कि मैं किसी भी प्रकार के गठबंधन के खिलाफ हूं, अगर अखिलेश यादव और रामगोपाल यादव ने ऐसा कोई निर्णय किया तो हमें फिर कोई और फैसला लेना पड़ेगा. यही नहीं उन्होंने यूपी विधानसभा चुनाव में सपा की हार के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा कि चुनाव में सपा की हार के लिए कांग्रेस ही जिम्मेदार है.
 
 
नेताजी से तीन तलाक से पूछे जाने पर कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला स्वागत योग्य है. इसे सभी मुस्लिम समाज ने भी स्वीकार किया है. उन्होंने कहा कि इस फैसले को सभी लोग स्वीकार करें और महिलाओं के उत्थान के लिए काम करना चाहिए. उन्होंने चीन के मसले पर मोदी सरकार को नसीहत देते हुए कहा कि भारत का सबसे बड़ा दुश्मन पाकिस्तान नहीं चीन है. देश को चीन की हरकर नजर रखे और सीमा पर ज्यादा ध्यान दे.
 
 
बता दें कि बहुजन समाज पार्टी ने कुछ दिन पहले एक पोस्टर जारी कर सामाजिक न्याय के लिए विपक्ष से एकजुट होने की अपील की थी. इस पोस्टर में पहली बार बसपा सुप्रीमो मायावती और अखिलेश यादव एक साथ दिख रहे थे. लेकिन बाद में बीएसपी की ओर से एक प्रेस रिलीज जारी करके इस पोस्टर को ही फर्जी करार दे दिया है.