मुंबई : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संसदीय क्षेत्र गोरखपुर के बीआरडी अस्पताल में पिछले 6 दिनों में 70 से ज्यादा बच्चों की मौत पर अब शिवसेना ने जमकर गुस्सा निकाला है. शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में कहा है कि ये बच्चों की मौत नहीं है बल्कि सामूहिक हत्याकांड है.
 
शिवसेना ने यूपी की योगी सरकार और बीजेपी पर जबर्दस्त हमला बोला है. शिवसेना ने कहा है, ‘ये तो बाल हत्याकांड है.  यूपी में सामूहिक हत्याकांड हुआ है. उत्तर प्रदेश में 70 बच्चों का सामूहिक हत्याकांड  हुआ है. इस हत्याकांड की जिम्मेदारी कौन लेगा. हिन्दुस्तान का स्वतंत्रता दिवस आने वाला है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लाल किले से देश को संबोधित करेंगे और उसी समय यूपी में बच्चों की ऐसी मौत होना स्वतंत्रता का अपमान है.’
 
 
शिवसेना ने लिखा है कि केंद्र में सत्ता परिवर्तन के बाद आम लोगों तथा गरीबों को लगा था कि उनकी जिंदगी में ‘अच्छे दिन’ आएंगे, लेकिन आज भी ग्रामीण क्षेत्रों के सरकारी अस्पताल में न दवाइयां हैं और न ही सुविधाएं हैं और न ही ऑक्सीजन जैसी जरूरत की चीज है.’
 
 
सामना में लिखा गया है कि, ‘इतने बच्चों की मौत होने पर भी राज्य ते स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ बेशर्मी से कहते हैं कि यहां अगस्त में बच्चे मरते ही हैं. इस शर्मनाक बयान के लिए इस मंत्री को तत्काल पद से हटाया जाना चाहिए.’