नई दिल्ली. संसद में हुए हंगामे के बीच गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुदासपुर आतंकी हमले पर लिखित जवाब दिया. इसके बाद उन्होंने यूपीए सरकार की आतंकवादी नीतियों को आड़े हाथ लिया.

उन्होंने कहा, ‘यूपीए के गृह मंत्री ने हिंदू आतंकवाद की नई टर्म इजाद करके आतंकवादी घटनाओं की जांच की दिशा को बदलने का काम किया. तब हिंदू आतंकवाद की टर्म इजाद किए जाने पर हाफिज सईद ने उन्हें बधाई दी थी. लेकिन ऐसी शर्मनाक स्थिति यह सरकार नहीं होने देगी. आतंकवाद, आतंकवाद होता है, उसका हिंदू मुसलमान, या कोई जाति, पंथ और धर्म नहीं होता.’

गृह मंत्री ने कहा, ‘आतंकवाद देश के लिए सबसे बड़ी चुनौती है और इस पर न तो देश और न ही संसद में किसी तरह का भेद नजर आना चाहिए.’ पिछले कुछ दिनों से कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी दलों द्वारा संसद में सरकार के खिलाफ नारेबाजी किए जाने पर टिप्पणी करते हुए उन्होंने कहा, ‘एक ओर शहादत हो और दूसरी ओर सदन में शोरशराबा हो, इसे देश कैसे स्वीकार करेगा?’