नई दिल्ली. गुरुवार को फांसी पर लटकाए गए आतंकी याकूब मेमन की मर्सी पिटीशन पर साइन करने के लिए बीजेपी नेता शत्रुघ्न सिन्हा को पार्टी के भीतर से ही आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है.  वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि याकूब की मर्सी पिटीशन पर साइन करके शत्रुघ्न ने बीजेपी को शर्मसार किया है. जेटली ने आगे कहा कि शत्रुघ्न ने एक आतंकी के लिए पार्टी को धोखा दिया है. 

क्या कहा जेटली ने
मर्सी पिटीशन पर शत्रुघ्न द्वारा साइन किए जाने को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में जेटली ने कहा कि “यह बेहद दुखद है कि शत्रुघ्न सिन्हा ने पार्टी लाइन के खिलाफ जाकर काम किया है. मैं सोचता हूं कि बीजेपी के किसी मेंबर को ऐसा नहीं करना चाहिए था.” उन्होंने कहा कि बीजेपी की पॉलिसी ये है कि हम किसी ऐसे आदमी का समर्थन नहीं कर सकते जिसने 1993 ब्लास्ट या 26/11 में बेगुनाह लोगों की जान लेने का पाप किया हो.

पार्टी से नाराज़ हैं शत्रुघ्न 
दरअसल, शत्रुघ्न सिन्हा उन कुछ नामचीन हस्तियों में शामिल थे जिन्होंने याकूब मेमन की फांसी के खिलाफ राष्ट्रपति के सामने पेश एक मर्सी पिटीशन पर साइन किए थे. शत्रुघ्न के इस पर साइन करने को लेकर विपक्ष और कुछ लोगों ने बीजेपी पर हमला किया था. मीडिया से बातचीत में जेटली ने कांग्रेस द्वारा संसद में किए जा रहे हंगामे को लेकर भी उसकी आलोचना की.

एजेंसी इनपुट भी