नई दिल्ली. ‘वन रैंक वन पेंशन’ की मांग को लेकर सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे के नेतृत्व में पूर्व सैनिक जंतर- मंतर पर प्रदर्शन कर रहे हैं. इस मौके पर अन्ना ने मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि सरकार ने कई वादे किए थे, लेकिन उनमें से एक भी पूरा नहीं हुआ. पूर्व सैनिकों की ‘वन रैंक वन पेंशन’ की मांग का समर्थन करते हुए कहा, सैनिक देश की सेवा करते हैं, लेकिन उन्हें अपना जायज हक नहीं मिलता.

उन्होंने कहा कि हमने मोदी सरकार को जो समय दिया था उसमें दो महीने का समय बाकी है, उसके बाद हम पूरे देश में घूम घूम कर लोगों को सरकार के खिलाफ जागरूक करेंगे. अन्ना ने कहा, ‘पांच दिनों से संसद नहीं चल रहा, संसद के एक दिन का खर्च कितना है? कितना पैसा बर्बाद हो रहा है. ये पैसे किसके हैं? यह हमारे और आपके पैसे हैं.’ 

अन्ना ने कहा, ‘सेना के जवान सीमा पर रातभर जागते हैं, यही कारण है कि देश के करोड़ों लोग चैन की नींद सो पाते हैं, लेकिन उन्हें ही अपना हक लेने के लिए प्रदर्शन करना पड़ रहा है. उन्होंने कहा कि यहां कई माता एवं बहने हैं जिन्होंने अपने पति को खोया है. वे देश की रक्षा करते हुए शहीद हो गए, लेकिन इन विधवाओं को मात्र 4000 रुपये पेंशन मिलती है. आज के समय में वो इतनी कम पेंशन में परिवार कैसे चलाएंगी?