नई दिल्ली. मॉनसून सत्र के चौथे दिन भी संसद में हंगामे के आसार हैं. व्यापम और ललित गेट जैसे भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर कांग्रेस-बीजेपी में घमासान मचा हुआ है. उधर बीजेपी ने भी वीरभद्र सिंह पर आरोपों की फाइल निकाली है. संसद के मॉनसून सत्र में सरकार और विपक्ष में गतिरोध जारी है. लगातार तीन दिनों से मचे घमासान के बीच आज भी संसद के दोनों सदनों में विपक्षी पार्टियों के हंगामे के आसार है.
 
व्यापम और ललित गेट जैसे मुद्दे को लेकर विपक्ष जहां सुषमा स्वराज, वसुंधरा राजे और शिवराज सिंह चौहान के इस्तीफे की मांग पर हंगामा कर रहा है, वहीं जवाब में बीजेपी कांग्रेस शासित राज्यों के घोटाले उठा रही है. आपको बता दें कि भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर कांग्रेस लगातार कह रही है कि बिना सुषमा स्वराज, वसुंधरा राजे और शिवराज सिंह चौहान के इस्तीफे के चर्चा स्वीकार नहीं है, वहीं सरकार कह रही है इनका इस्तीफा नहीं होगा.
 
इसी बीच बीजेपी ने भी संसद में कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों का घोटालों में नाम आने को लेकर इस्तीफा मांगा है. मंत्रियों पर भ्रष्टाचार के आरोप से घिरी बीजेपी ने कांग्रेस पर पलटवार करते हुए हिमाचल के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह पर घूस लेने का आरोप लगाया है. टेलीकॉम मंत्री रविशंकर प्रसाद ने वीरभद्र सिंह पर आरोप लगाते हुए कहा कि ‘वीरभद्र सिंह ने फार्म हाउस खरीदने के लिए एक प्राइवेट कंपनी से घूस ली’ वहीं वीरभद्र सिंह ने इन आरोपों को राजनीतिक साजिश बताते हुए कहा कि वह किसी भी जांच के लिए तैयार हैं.