मुंबई: राष्ट्रपति चुनाव को लेकर सत्ता पक्ष और विपक्ष में दंगल दिख सकता है. बिहार के राज्यपाल रामनाथ कोविंद को NDA ने प्रत्याशी बनाया तो पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार विपक्ष की उम्मीदवार हो सकती हैं. इस बीच शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे मंगलवार को राष्ट्रपति चुनाव पर अपनी भूमिका का ऐलान करेंगे.
 
उद्धव ठाकरे ने कहा कि राष्ट्रपति चुनाव पर मंगलवार को शिवसेना के नेताओं के साथ बैठक करूंगा, इसके बाद पार्टी अपनी भूमिका का ऐलान करेगी. ठाकरे ने कहा कि बीजेपी ने केवल वोट बैंक के लिए एक दलित को राष्ट्रपति का उम्मीदवार बनाया है. ठाकरे ने ये सभी बातें सोमवार को शिवसेना पार्टी के 51वें स्थापना दिन पर कहीं.
 
ये भी पढ़ें:
 
उद्धव की बातों से लग रहा है कि वह एनडीए के उम्मीदवार के नाम से खुश नहीं हैं. ठाकरे ने कहा कि राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के लिए शिवसेना ने मोहन भागवत और स्वामीनाथन का नाम दिया लेकिन बीजेपी ने इसका विरोध किया. हमारा केवल एक ही उद्देश्य था की देश को अच्छा राष्ट्रपति मिले. 
 
ये भी पढ़ें: 
 
बता दें कि अगले महीने हो रहे राष्ट्रपति चुनाव के लिए शिवसेना ने मोहन भागवत के बाद मशहूर कृषि वैज्ञानिक एमएस स्वामीनाथन का नाम बढ़ाया था लेकिन बीजेपी को इन दोनों नामों पर असहमति थी. हालांकि खुद भागवत ने इस तरह की किसी भी राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी की संभावना को खारिज कर दिया था.
 
ये भी पढ़ें:
 
बता दें कि रामनाथ कोविंद को एनडीए की तरफ से राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाए जाने के बाद कई दलों ने समर्थन का एलान किया है. अमित शाह ने आज संसदीय दल की बैठक के बाद संवाददाताओं को संबोधित करते हुए एलान किया कि एनडीए की तरफ से रामनाथ कोविंद राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार होंगे. रामनाथ गोविंद कानपुर के रहने वाले हैं और फिलहाल वो बिहार के राज्यपाल हैं.