नई दिल्ली. मंगलवार से शुरु हो रहे मानसून सत्र के लिए कांग्रेस ने रुख साफ कर दिया है. कांग्रेस की तरफ से गुलाब नबी आजाद ने ऐलान किया कि जब तक पीएम मोदी व्यापम घोटाले से जुड़े दोषी मंत्रियों का इस्तीफा नहीं लेंगे तब तक कांग्रेस मानसून सत्र को बाधित करेगी. 

सरकार ने मानसून सत्र के लिए 35 कार्य तय किए हैं जिनमें राज्यसभा में लंबित नौ विधेयक और लोकसभा में लंबित चार विधेयक और 11 नए विधेयक पेश करना भी शामिल है. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद व्यापम मामले की सीबीआई जांच की जा रही है. इस मामले में सीएम शिवराज सिंह चौहान समेत बीजेपी के उपाध्यक्ष प्रभात झा और उनके दोनों बेटों, सुधीर शर्मा, लक्ष्मीकांत शर्मा, आरएसएस के समीर सोनी, अनिल दवे के साथ ही केसी सुदर्शन का नाम उछला है.