नई दिल्ली: दिल्ली में अरविंद केजरीवाल सरकार की दो हफ्ते से खाली पड़ी मंत्रियों की दो कुर्सी आज फुल हो गई. दिल्ली के एलजी अनिल बैजल ने शुक्रवार की शाम दो मंत्रियों कैलाश गहलोत और राजेंद्र पाल गौतम को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. 
 
 
दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने जल संसाधन मंत्री कपिल मिश्रा को कैबिनेट से विदा करने के बाद खाली पड़े मत्रियों के दो पद के लिए गहलोत और गौतम के नाम की सिफारिश भेजी थी लेकिन उन्हें शपथ नहीं दिलाया गया था. 
 
इस बात को लेकर केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने 16 मई को भी ट्वीट किया था कि केंद्र सरकार 10 दिन से दोनों मंत्रियों की नियुक्ति की फाइल दबाए बैठी है. केजरीवाल ने गुरुवार की शाम फिर से एक बार ट्वीट किया और सवाल उठाया कि केंद्र सरकार 12 दिन से मंत्रियों की नियुक्ति की फाइल दबाकर क्यों बैठी है.
 

 

केजरीवाल के इस ट्वीट के बाद 24 घंटे के अंदर ही दोपहर तक मंत्रियों को शपथ का न्योता चला गया और शाम 5 बजे एलजी अनिल बैजल ने दोनों को शपथ दिला दी. दोनों मंत्रियों के बीच विभाग भी बांट दिया गया है. कैलाश गहलोत को लॉ एण्ड जस्टिस, ट्रांसपोर्ट, आईटी और प्रशासनिक सुधार विभाग दिया गया है. 
 
राजेंदर पाल गौतम को जल संसाधन, सोशल वेलफेयर, आर्ट एंड कल्चर और एससी-एसटी मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गई है. कैलाश गहलोत नजफगढ़ और राजेंद्र पाल गौतम सीमापुरी के विधायक हैं.