नई दिल्ली : दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर माफिया होने का बड़ा आरोप लगाया है. उन्होंने कहा है कि केजरीवाल बहुत बड़े माफिया हैं और हवाला कारोबारियों से उनका सीधा कनेक्शन है.
 
कपिल मिश्रा ने कहा, ‘केजरीवाल का हवाला कारोबारियों से सीधा संबंध है, वह बड़े माफिया हैं और अब ये खुलासा करने के बाद मेरी हत्या भी हो सकती है.’ उन्होंने कहा कि अब उनके हाथों में केजरीवाल की कॉलर है और अब दिल्ली सीएम को भारत छोड़कर भागना भी पड़ सकता है.
 
आप को 2 करोड़ का चंदा देने की बात कबूलने वाले मुकेश शर्मा पर भी कपिल मिश्रा ने बड़ा खुलासा किया है. उन्होंने कहा है कि केजरीवाल ने मुकेश शर्मा को बलि का बकरा बनाया है. दिल्ली के पूर्व जलमंत्री ने 2 करोड़ का चंदा देने वाली कंपनियों के लेटरहेड जारी करते हुए बताया कि साल 2014 में चार में से केवल दो कंपनियों में ही मुकेश शर्मा थे, दो में वह थे ही नहीं, ऐसे में वह कैसे कह सकते हैं कि आप को चंदा उन्होंने ही दिया.
 
 
हेम प्रकाश को बचा रहे हैं केजरीवाल
कपिल मिश्रा ने कहा कि केजरीवाल मुकेश शर्मा के आड़ में हेम प्रकाश को बचा रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘केजरीवाल मुकेश शर्मा के नाम की आड़ में रोहित टंडन की कंपनी के डायरेक्टर हेम प्रकाश का नाम छुपा रहे हैं और रोहित टंडन की कंपनी पर आईटी ने छापेमारी भी की थी. हेम प्रकाश कई कंपनियों के डायरेक्टर हैं और उन्होंने ही 50 लाख के चैक पर साइन किए थे.’
 
कपिल मिश्रा ने कहा कि मुकेश शर्मा की कंपनी को दिल्ली सरकार ने कई सारे नोटिस भेजे हैं, यही वजह है कि अब वह केजरीवाल की हर बात मान रहे हैं. उन्होंने ने कहा कि मुकेश शर्मा आम आदमी पार्टी को कैसे चंदा दे सकते हैं. उन्होंने कहा, ‘जिस आदमी को बैंक ने दिवालिया घोषित कर दिया हो वह किसी पार्टी को 2 करोड़ का चंदा कैसे दे सकता है.
 
कपिल मिश्रा ने आज फिर एक और प्रजेंटेशन दिखाते हुए बताया कि एक साथ चार कंपनियों ने रात को 12 बजे 50-50 लाख रुपए भेजे थे, इस पूरी प्रोसेस के लिए जो लेटरहेड बनाया गया था, वह नकली है, वह सब कुछ घर पर बैठकर ही बनाया गया है. दो कंपनियों के लेटरहेड में मुकेश शर्मा के हस्ताक्षर है जबकि दो में नहीं है.
 
 
मुकेश शर्मा ने किया था दावा
बता दें कि मुकेश शर्मा नाम के शख्स ने गुरुवार को दावा किया था कि उसने आप को 2 करोड़ रुपए का चंदा दिया है. उस शख्स ने दावा किया था कि जिन चार कंपनियों ने आप को 2 करोड़ का चंदा दिया था वह फर्जी कंपनियां नहीं थी बल्कि वह चारों कंपनियां उसकी ही हैं. 
 
एक न्यूज़ चैनल से मुकेश शर्मा ने कहा था कि ये चारों कंपनियां जिन्होंने आप को चंदा दिया है वह उसकी खुद की कंपनियां हैं और वह फर्जी नहीं हैं. मुकेश शर्मा ने कहा था, ‘कंपनियां मेरी हैं और मैंने ही डिमांड ड्राफ्ट बनवाकर आप को चंदा दिया ता. मैं राजनीतिक पचड़े में नहीं पड़ना चाहता था इसलिए जब दो साल पहले मीडिया में यह मुद्दा उठा था मैं सामने नहीं आया था.’