भोपाल : केंद्रीय मंत्री अनिल माधव दवे का आंतिम संस्कार शुक्रवार को मध्य प्रदेश के होशंगाबाद जिले में नर्मदा नदी के किनारे किया जाएगा. दवे का अंतिम संस्कार कल 10 बजे बांद्रा भान में होगा. 
 
पहले उनका अंतिम संस्कार इंदौर में किया जा रहा था, लेकिन उनकी वसीयत मिलने के बाद जगह बदल दी गई. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि माधव दवे की वसीयत मिली है, जिसमें लिखा है कि उनका अंतिम संस्कार नर्मदा के किनारे बांद्रा भान में किया जाए.
 
माधव दवे का पार्थिव शरीर आज शाम करीब 5 बजे विशेष विमान से भोपाल लाया जाएगा, जिसके बाद कल सुबह दस बजे होशंगाबाद के शिवनेरी आश्रम में बांद्रा भान में किया जाएगा.
 
भोपाल लाने से पहले दवे का पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन के लिए 2 बजे से 4 बजे तक 11 सफदरजंग रोड में रखा जाएगा, फिर शाम को भोपाल लाया जाएगा जहां पार्टी दफ्तर में उन्हें श्रद्धांजलि दी जाएगी. उसके बाद देर शाम उनका शरीर इंदौर में उनके भाई अभय दवे के धर ले जाया जाएगा.
 
बता दें कि केंद्रीय पर्यावरण मंत्री अनिल माधव दवे का गुरुवार की सुबह दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया. दवे ने गुरुवार की सुबह दिल्ली के एम्स में दवे ने आखिरी सांस ली. 61 साल के दवे मध्य प्रदेश से राज्यसभा सांसद थे.
 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अनिल दवे के निधन पर गहरा शोक जताया है. उन्होंने कहा है कि उनके निधन से वह काफी स्तब्ध हैं. पीएम मोदी ने ट्वीट कर दवे के निधन पर शोक व्यक्त किया. वहीं कैलाश विजयवर्गीय ने दवे के निधन को देश का बड़ा नुकसान बताया है.