नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जम्मू-कश्मीर पहुंच चुके हैं. मोदी की जम्मू यात्रा को देखते हुए शहर के भीतर और आसपास सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं. सीमा से हो रही घुसपैठ की कोशिशों को देखते हुए भी सुरक्षा प्रबंध व्यापक किया गया है. प्रधानमंत्री की सुरक्षा में लगी एसपीजी की टीम जम्मू पहुंच चुकी है और उसने उनके कार्यक्रम स्थल की बारीकी से जांच की. उधर जम्मू में सेना ने एक हथियारों का जखीरा भी बरामद किया है.

पीएम का कार्यक्रम जम्मू विश्वविद्यालय के जनरल जोरावर सिंह सभागार में आयोजित होना है. इसके लिए पूरे विश्वविद्यालय को सील कर दिया गया है. किसी भी वाहन को जम्मू विश्वविद्यालय परिसर में प्रवेश की अनुमति नहीं है और प्रवेश करने वाले सभी लोगों की पूरी तलाशी ली जा रही है. जम्मू के एसपी राजीव पांडेय ने कहा कि किसी भी प्रतिकूल स्थिति से निपटने के लिए प्रधानमंत्री के कार्यक्रम के रास्ते में रैपिड एक्शन फोर्स को तैनात किया गया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूर्व वित्त मंत्री व सांसद रहे पंडित गिरधारी लाल डोगरा की जन्मशती पर आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए हैं. ईद से ठीक पहले मोदी के इस दौरे पर अलगाववादियों की भी नजर है. प्रधानमंत्री के दौरे की सुरक्षा को लेकर शहर की किलेबंदी की गई है. सूत्रों के हवाले से ख़बर है पीएम इस यात्रा के दौरान जम्मू-कश्मीर के लिए 70 हज़ार करोड़ रुपये के विशेष पैकेज का ऐलान कर सकते हैं. पीएम मोदी बाढ़ प्रभावितों के साथ किए गए अपने वादों को पूरा करने के लिए ईदी के तौर पर राहत पैकेज भी जारी कर सकते हैं. प्रधानमंत्री की यात्रा के दौरान जम्मू-कश्मीर के लिए बड़े ऐलान होने की संभावना है. राज्य के लिए कई विकास परियोजनाओं की प्रधानमंत्री आज घोषणा कर सकते हैं. प्रधानमंत्री घाटी में एम्स और आईआईटी की स्थापना की भी घोषणा कर सकते हैं.