देहरादून: उत्तराखंड उच्च न्यायालय ने गुरुवार को विकासनगर विधानसभा चुनाव में इस्तेमाल की गईं सभी ईवीएम को कोर्ट की कस्टडी में रखने का आदेश दिया है. बता दें कि कांग्रेस विधायकों ने ईवीएम में धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए एक याचिका दायर की थी.

उत्तराखंड उच्च न्यायालय ने इस मामले में चुनाव आयोग, राज्य चुनाव आयोग, प्रमुख सचिव और चुनाव जीतने वाले बीजेपी प्रत्याशी मुन्ना सिंह चौहान को नोटिस जारी किया है. साथ ही इस मामले में 6 हफ्ते के भीतर नोटिस का जवाब मांगा गया है.

बता दें कि विकासनगर विधानसभा से पूर्व मंत्री और कांग्रेस प्रत्याशी नवप्रभात ने उच्च न्यायालय में ईवीएम में गड़बड़ी को लेकर याचिका दाखिल की थी. इसी याचिका के आलोक में हाईकोर्ट ने ये आदेश सुनाया है.
 
गौरतलब है कि पिछले महीने 11 मार्च को आए विधानसभा चुनाव परिणाम के अनुसार, विकासनगर विधानसभ सीट पर भाजपा प्रत्याशी मुन्ना सिंह चौहान ने कांग्रेस प्रत्याशी नवप्रभात को हरा दिया था. इस चुनाव में मुन्ना सिंह चौहान ने नवप्रभात को 6418 वोटों के अंतर से हराया था.
 
आपको बता दें कि इसी हार के बाद कांग्रेस प्रत्याशी नवप्रभात ने ईवीएम में छेड़छाड़ और गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए उत्तराखंड उच्च न्यायलय में याचिका दाखिल की थी.