नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जल्द ही जम्मू कश्मीर के लिए एक विकास पैकेज की घोषणा कर सकते हैं जिसमें पर्यटन, बिजली, स्वास्थ्य, जल संसाधन और बुनियादी ढांचा विकास जैसे क्षेत्रों के लिए 50,000 करोड़ का प्रावधान हो सकता है.

एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने बताया कि वित्त मंत्रालय प्रधानमंत्री कार्यालय के निरीक्षण में इस पैकेज पर काम कर रहा है. यह कदम ऐसे समय उठाया जा रहा है जब वित्त, गृह, सड़क परिवहन, स्वास्थ्य, पर्यटन मंत्रालयों और नीति आयोग के प्रतिनिधित्व वाली एक केंद्रीय टीम ने 24 जून को कश्मीर का दौरा किया था.

यह पैकेज पर्यटन, कौशल विकास, स्वास्थ्य सुविधाओं, शिक्षा क्षेत्र में सुधार के वास्ते परियोजनाओं के लिए दिया जाएगा और उन्हें पांच साल में पूरा करना होगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इस हफ्ते बाद में होने वाली जम्मू यात्रा के समय तक इस पैकेज को तैयार करने के लिए उस पर अब भी काम चल रहा है. 

मोदी और वित्तमंत्री अरुण जेटली जम्मू कश्मीर के पूर्व वित्तमंत्री गिरधारी लाल डोगरा के शताब्दी समारोह पर आयोजित कार्यक्रम में शिरकत करने 17 जुलाई को जम्मू जाएंगे. जम्मू कश्मीर सरकार पिछले साल के बाढ़ प्रभावितों के पुनर्वास के लिए पहले ही 44,000 करोड़ रुपये के पैकेज की मांग कर चुकी है. नए पैकेज में सब कुछ होगा.

जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद राज्य में भाजपा-पीडीपी गठबंधन सरकार के सत्ता में आने के बाद से ही ऐसे वित्तीय पैकेज के लिए दबाव बनाते रहे हैं.

एजेंसी