नई दिल्ली : कई अटकलों के बाद योगी आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश के सीएम के तौर पर चुना गया. केंद्र के इस औचक फैसले के बाद अब ये भी खबर आ रही है कि यूपी प्रशासन के काम पर सीधे केंद्र की नजर रहेगी. 
 
इंडिया टुडे की खबर के मुताबिक पीएम मोदी ने यूपी प्रशासन पर नजर बनाए रखने के लिए अपने एक खास नौकरशाह नृपेंद्र मिश्रा को नियुक्त किया है. मिश्रा का काम पीएम आॅफिस और आदित्यनाथ सरकार के बीच समन्वय बनाना है. 
 
पीएम मोदी के प्रमुख सचिव
नृपेंद्र मिश्रा पीएम मोदी के प्रमुख सचिव हैं. साल 2014 में लोकसभा चुनाव जीतने के बाद जब मोदी पीएम बने थे तो उन्होंने यूपी कैडर के आईएएस नृपेंद्र मिश्रा को केंद्र में बुलाया था. मिश्रा और सीएम आदित्यनाथ के बीच रविवार को 45 मिनट तक बैठक भी हुई थी. ये भी अटकलें हैं कि यूपी प्रशासन में प्रमुख नियुक्तियां मिश्रा से चर्चा के बाद ही की जाएंगी. 
 
 
सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि इस बैठक में मिश्रा और आदित्यनाथ के बीच गरीबों तक सरकार की योजनाओं का लाभ पहुंचाने पर चर्चा की गई थी. मिश्रा आगे चलकर पीएम मोदी और सीएम आदित्यनाथ के बीच संपर्क का काम भी करेंगे. 
 
दो डिप्टी सीएम और 44 मंत्रियों के साथ शपथ
बता दें कि हाल ही में हुए यूपी विधानसभा चुनावों में बीजेपी ने 403 में से 312 सीटें जीतकर बहुमत हासिल किया था. अब गोरखपुर से पांच बार सांसद रह चुके योगी आदित्यनाथ को यूपी का सीएम बनाया गया है. रविवार को योगी ने दो ​उप मुख्यमंत्री और 44 मंत्रियों के साथ शपथ ग्रहण की है.