देहरादून : गोवा और मणिपुर में सरकार बनाने के बाद अब बीजेपी ने उत्तराखंड में भी सरकार बना ली है. त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली है. रावत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में देहरादून के परेड ग्राउंड में शपथ ली.
 
शपथ लेने के साथ ही त्रिवेंद्र उत्तराखंड के नौवें मुख्यमंत्री बन गए हैं. बता दें कि मुख्यमंत्री पद के दावेदारों में पूर्व मंत्री प्रकाश पंत और त्रिवेंद्र सिंह रावत का नाम सबसे आगे चल रहा था.
 
 
त्रिवेंद्र के साथ इन 9 मंत्रियों ने भी ली शपथ…
 
सतपाल महाराज ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
प्रकाश पंत ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
हरक सिंह रावत ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
मदन कौशिक ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
यशपाल आर्य ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
अरविन्द पांडेय ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
सुबोध उनियाल ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
रेखा आर्य ने राज्य मंत्री पद की शपथ ली 
धन सिंह रावत ने राज्य मंत्री पद की शपथ ली
 
इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पीएम मोदी 2.20 बजे देहरादून पहुंचे थे. शपथ ग्रहण समारोह में राज्य के पूर्व सीएम हरीश, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ स‌िंह, हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर और झारखंड के सीएम रघुवर दास भी शामिल हुए.
 
 
कौन हैं त्रिवेंद्र रावत ?
त्रिवेंद्र रावत उत्तराखंड में पूर्व कृषि मंत्री रह चुके हैं. उनका नाम बीज घोटाले में आ चुका है. रावत ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत आरएसएस प्रचारक के तौर पर की थी. उन्होंने बीजेपी के राष्ट्रीय सचिव कई मुख्य पदों पर काम भी किया है. त्रिवेंद्र सिंह रावत ने संघ के प्रचारक से लेकर सीएम तक के सफर में तमाम उतार-चढ़ाव देखे. वह 14 साल तक संघ से जुड़े रहे और फिर 1993 में बीजेपी संगठन मंत्री बने. उत्तराखंड अलग राज्य बनने के बाद 2002 में पहली बार डोईवाला से विधायक चुने गए. 
 

सतपाल महाराज