लखनऊ. तीसरे चरण के लिए चुनाव प्रचार आज से खत्म हो जाएगा. मतदान को 19 फरवरी को होना है. इस चरण में मुलायम सिंह यादव परिवार के छह प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं.
इस लिहाज से इस दौर का मतदान समाजवादी पार्टी की प्रतिष्ठा से जुड़ा है. इस बार यादव परिवार के लिए लड़ाई थोड़ा कठिन होती दिखाई दे रही है.
क्योंकि जहां इस बार सत्ता विरोधी लहर भी सामने है तो यादव परिवार में कुर्सी को लेकर मचे घमासान को भी वोटर देख रहा है. इन प्रत्याशियों के लिए राहत वाली बात यह है कि सभी ऐसी सीटों से मैदान में हैं जो यादव परिवार या सपा का गढ़ माने जाते रहे हैं.
कहां-कहां होगा 19 फरवरी को मतदान
फर्रुखाबाद, हरदोई, कन्नौज, मैनपुरी, इटावा, औरैया, कानपुर, कानपुर देहात, उन्नाव, लखनऊ, बाराबंकी और सीतापुर में मतदान होगा. इन 12 जिलों में  69 सीटों में से 55 सीटें पिछली बार (2012 का चुनाव) समाजवादी पार्टी ने कब्जा जमाया था. 
इनमें से कई सीटें यादव परिवार का गढ़ मानी जाती हैं. जिसमें मैनपुरी, इटावा और कन्नौज हैं.
यादव परिवार से कौन हैं प्रत्याशी
इटावा की जसवंत नगर से शिवपाल यादव, लखनऊ कैंट से अपर्णा यादव, अनुराग यादव लखनऊ की सरोजनी नगर से.
कितने मतदाता
इस बार कुल 826 प्रत्याशी हैं तो कुल 2.41 करोड़ वोट डालेंगे. पिछली बार यहां से सपा ने 55 सीटें जीती थीं तो बसपा ने 6 और बीजेपी के हिस्से 5 सीटें आई थीं.