लखनऊ :  मुलायम सिंह यादव ने रामगोपाल यादव पर एक बार फिर जोरदार हमला करते हुए कहा है कि वह बेटे और बहू के कहने पर समाजवादी पार्टी तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं. रामगोपाल बीजेपी से मिले हुए हैं.
 
मुलायम ने लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा है कि वह पार्टी का नाम और सिंबल नहीं बदल रहे हैं, बल्कि दूसरा गुट इसकी तैयारी में है. उन्होंने कहा, ‘रामगोपाल यादव दूसरी पार्टी बनाने की तैयारी में हैं. वह तीन बार दूसरी पार्टी के अध्यक्ष से मुलाकात कर चुके हैं.’
 
 
उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी बहुत ही संघर्षों के बाद बनी है और कुछ लोग पार्टी को तोड़ने का काम कर रहे हैं. मुलायम ने कहा, ‘रामगोपाल पार्टी तोड़ने का काम कर रहे हैं, अखिल भारतीय समाजवादी पार्टी नाम रख रहे हैं अपनी पार्टी का’.
 
मुलायम ने अखिलेश यादव के साथ झगड़े पर कहा कि उनके पास जो कुछ भी था वह दे चुके हैं, उनके पास केवल जनता का प्यार और भरोसा है. उन्होंने कहा, ‘हम किसी भी कीमत पर पार्टी को अलग नहीं करना चाहते. आप मेरे साथ रहिए, पार्टी को हम बचाएंगे.’
 
इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में शिवपाल यादव भी मौजूद थे. मुलायम ने शिवपाल की तारीफ करते हुए कहा, ‘कितनी तकलीफें झेलीं हैं मैंने और शिवपाल ने. दोनों कितनी बार जेल गए. शिवपाल रात को छुप जाता था दिन में प्रचार करता था.’
 
बता दें कि अखिलेश-मुलायम विवाद कम होता नजर ही नहीं आ रहा है. मंगलवार को हुई बैठक के बाद से यह कहा जा रहा था कि दो खेमों में बंटी पार्टी में सुलह हो सकती है, लेकिन बाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर आकर अटक गई. 
 
मुलायम पार्टी अध्यक्ष का पद छोड़ना नहीं चाहते तो वहीं अखिलेश चाहते हैं कि केवल तीन महीनों के लिए उन्हें ही पार्टी का अध्यक्ष बना दिया जाए.