नई दिल्ली. योग दिवस कार्यक्रम में उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी की गैर-मौजूदगी पर ट्वीट के जरिये सवाल उठाने वाले बीजेपी नेता राम माधव से सरकार नाराज है. सरकार ने इसे गैर-जरूरी विवाद करार दिया है. गौरतलब है कि उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी के कार्यालय ने बताया कि उपराष्ट्रपति को योग दिवस कार्यक्रम में आमंत्रित नहीं किया गया था. राम माधव ने उनकी अनुपस्थिति पर सवाल उठाए थे.

राम माधव ने पहले ट्वीट कर अंसारी की गैरहाजिरी पर सवाल उठाए, लेकिन बाद में उन्होंने अपने ट्वीट हटाते हुए माफी मांगी और कहा कि उन्हें बाद में यह पता चला कि उपराष्ट्रपति बीमार हैं. हालांकि उपराष्ट्रपति कार्यालय ने कहा कि यह सही नहीं है कि उपराष्ट्रपति बीमार हैं. उसने यह भी कहा कि उपराष्ट्रपति उन कार्यक्रमों में शरीक होते हैं, जिनमें संबद्ध मंत्री प्रोटोकॉल के तहत उन्हें आमंत्रित करते हैं.

इस पूरे विवाद पर केंद्रीय मंत्री श्रीपद नाइक ने कहा कि यह मामला प्रोटोकॉल का है. उप राष्ट्रपति का पद पीएम से ऊपर है और कार्यक्रम के चीफ गेस्ट के तौर पर पहले ही पीएम का नाम तय कर लिया गया था. उन्होंने माना कि राम माधव ने गलती की.