नई दिल्ली. अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजपथ पर विशाल समारोह में 40 हजार लोगों के साथ योग किया. इस मौके पर पीएम मोदी ने लोगों को शुभकामनाएं देते हुए उनसे योग को अपने जीवन का अभिन्न हिस्सा बनाने का संकल्प लेने की अपील की. उन्होंने कहा कि योग करने से तनाव दूर होता है. साथ ही, पीएम ने उन सभी देशों को धन्यवाद दिया जिन्होंने योग दिवस को सफल बनाने में सहयोग किया.

मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत करते हुए लोगों से सवाल किया, ‘क्या किसी ने कभी सोचा था कि राजपथ योगपथ बन सकता है? उन्होंने कहा, ‘संयुक्त राष्ट्र आज अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मना रहा है. मेरे ख्याल से यह एक साधारण दिन नहीं, बल्कि शांति और सौहाद्र्र पाने का एक प्रयास है.’ मोदी ने कहा, ‘मैं उन गुरुओं को नमन करता हूं, जो सदियों से इस परंपरा को जीवित रखे हुए हैं.’

कार्यक्रम से पहले राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने भाषण दिया और योगा के महत्व के बारे में बताया। राजपथ पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल, डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया भी पहुंचे. इसके अलावा किरण बेदी, उपराज्यपाल नजीब जंग और केंद्र सरकार के तमाम मंत्री भी यहां मौजूद हैं. दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने कहा कि उन्हें यहां आकर बहुत अच्छा लगा. स्वस्थ रहने के लिए योगा करना चाहिए. इसमें कोई राजनीति नहीं देखनी चाहिए.