नई दिल्ली. बीजेपी के सीनियर लीडर लालकृष्ण आडवाणी ने भले ही देश में आगे भी इमरजेंसी की आशंका जताई हो, पर RSS को ऐसा नहीं लगता.
RSS के मनमोहन वैद्य ने ट्वीट करके भारत में आपातकाल लागू करने जैसे हालात को सिरे से खारिज कर दिया है. साथ ही बीजेपी ने लालकृष्ण आडवाणी के बयान पर सफाई पेश कर दी. बीजेपी ने कहा कि आडवाणी ने संस्था को लेकर वैसा बयान दिया.

 

आडवाणी ने जताई थी इमरजेंसी की आशंका

इससे पहले, लालकृष्ण आडवाणी के इमरजेंसी की आशंका पर दिए गए बयान पर बवाल हो गया. विपक्षी पार्टियों ने इस बयान के बहाने मोदी सरकार पर हमले तेज कर दिए. दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने भी इस मुद्दे पर ट्वीट करके राजनीति को हवा दी और इसका रुख दिल्ली में जारी ‘जंग’ की ओर मोड़ दिया. उन्होंने लिखा, ‘आडवाणी ने सही कहा है कि इमरजेंसी की आशंका से इनकार नहीं कहा जा सकता. क्या दिल्ली उनका पहला प्रयोग है?’

गौरतलब है कि आडवाणी ने ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ को दिए इंटरव्यू में कहा था कि भारत की राजनीतिक व्यवस्था अब भी इमरजेंसी के हालात से निपटने के लिए तैयार नहीं है और भविष्य में भी नागरिक अधिकारों के ऐसे निलंबन की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता. उन्होंने कहा, ‘संवैधानिक और कानूनी सुरक्षा-तंत्र के बावजूद, मौजूदा समय में लोकतंत्र को कुचलने वाली ताकतें मजबूत हैं.’