लखनऊ. उत्तर प्रदेश में विधान सभा चुनाव से पहले कांग्रेस जातीय समीकरण बनाने में जुटी हुई हैं. कांग्रेस पार्टी ने अत्यंत पिछड़ा वर्ग को अलग से आरक्षण देने की वकालत की हैं. 
 
शनिवार को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रदेश के अत्यंत पिछड़ी जातियों के नेताओं के साथ बैठक की. बैठक में राहुल ने कहा कि ओबीसी के लिए मौजूदा आरक्षण की व्यवस्था से केवल कुछ ही जातियों को इसका फायदा मिल पा रहा है.
 
अत्यंत पिछड़ी जातियों को ओबीसी आरक्षण का लाभ नहीं मिल रहा है. इसलिए उनके लिए आरक्षण में अलग से कोटा तय होना चाहिए.
 
इस बैठक में उत्तर प्रदेश के चुनाव प्रभारी गुलाब नबी आज़ाद भी मौजूद थे. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने यह तय किया है कि उप्र के चुनावी घोषणापत्र में ओबीसी के 27 फीसद आरक्षण के अंदर ही एमबीसी(मोस्ट बैकवर्ड क्लास) के लिए अलग से कोटे के प्रावधान का वादा किया जाएगा. आजाद ने कहा कि उप्र में कांग्रेस की सरकार बनते ही  इसे छह महीने में लागू करने की कोशिश की जाएगी.