लखनऊ. बसपा सुप्रीमो मायावती ने बीजेपी की धम्म चेतना यात्रा को फ्लॉप शो बताया हैं. उन्होंने कहा है कि भाजपा धर्म को राजनीतिक और चुनावी स्वार्थ के लिए इस्तेमाल कर रही है.
 
गौरतलब है कि बीजेपी ने कानपुर में धम्म चेतना यात्रा के समापन समारोह का आयोजन किया था. बीजेपी ने दावा किया था कि इस समारोह में बड़ी संख्या में दलित समाज के लोग शामिल हुए थे.
 
इस मौके पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कुछ बौद्ध भिक्षुओं को सम्मानित भी किया था. मायावती ने बीजेपी के दावों को झूठा बताया हैं.
 
उन्होंने आगे कहा कि इस समारोह में शामिल होने वाले लोग संघ और बीजेपी के अपने कार्यकर्ता थे. जिन्हें ‘नकली दलित’ बनाकर पेश किया गया. मायावती ने ये भी  कहा कि जिन बौद्ध भिक्षुओं को सम्मानित किया गया वो भी बहरूपिये ही थे.
 
उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि लखनऊ में दशहरा के मौके  पर रामलीला में शामिल होकर प्रधानमंत्री ने धर्म की आड़ में अपनी राजनीति को चमकाने की कोशिश की थी.