लखनऊ. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव का कहना है कि अब पार्टी के कार्यकर्ता उन्हें पहले जैसा सम्मान नहीं देतें. ये बात उन्होंने लखनऊ में राम मनोहर लोहिया की पुण्यतिथि के अवसर पर कही.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इस मौके पर मुलायम ने कहा कि एक वक़्त था, जब उनके ऊपर कोई उंगली भी उठा देता था तो पार्टी के कार्यकर्ता उंनके लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार रहते थे. उन्होंने पार्टी के युवा कार्यकर्ताओ को आड़े हाथो लेते हुए कहा कि वे पार्टी के सिद्धान्तों पर नहीं चल रहे है. 
 
उन्होंने बताया की एक बार एक अखबार ने उन्हें नकली कहकर संबोधित किया था जिसके बाद पार्टी कार्यकर्ताओं ने उसका खूब विरोध किया था और अंत में उस अखबार को अपनी बात से पीछे हटना पड़ा था.
 
उनका ये बयान ऐसे समय पर आया है जब पार्टी में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा  हैं. हाल ही में मुलायम ने अखिलेश के लिए गए कुछ महत्वपूर्ण फैसलों को बदल दिया था.
 
जिसमे अमर सिंह को पार्टी महासचिव बनाना, गायत्री प्रजापति को फिर से मंत्री बनाना और मुख्तार अंसारी की पार्टी कौमी एकता दल का समाजवादी पार्टी में विलय कराना प्रमुख थे.